ओलंपिक चैम्पियन लवलीना के उत्पीड़न के आरोप के बाद खेल मंत्रालय जागा अब जल्दबाज़ी में एक्शन. CWG 2022 Lovlina Borgohain

 


CWG 2022 Lovlina Borgohain latest. Today news update.


भारत की गोल्ड मेडलिस्ट स्टार और जबरदस्त बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन ने अपने साथ हो रहे हरासमेंट के बारे में ट्विटर पर एक पोस्ट लिखा, उसके बाद उनकी शिकायत परेशानी दूर करने के लिए खेल मंत्रालय अब जाकर जागा है. परंतु इससे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत के खेल क्षेत्र में खिलाड़ियों की हो रही अनदेखी के बारे में छवि पर नकारात्मक असर पड़ा है.

  

जहां अन्य देशों में खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए. उनके ट्रेनिंग करने के लिए उनको सभी प्रकार की सुविधाएं प्राथमिकता से उपलब्ध कराई जाती है. ताकि वह अपने देश के लिए मैडम ला सके दुनिया में नाम कर सके. लेकिन अपने यहां सारा मामला कुछ अलग ही है. अच्छे-अच्छे खिलाड़ी भारतीय खेल व खिलाड़ी राजनीति के शिकार हो जाते.


जिसका ताजा उदाहरण अभी लवलीना ने अपने पोस्ट के माध्यम से देश के सामने रखा है.उनकि कोच को अब जाकर मिला कॉमनवेल्थ गेम्स का एक्रीडिटेशन क्योंकि बॉक्सर लवलीना ने अपनी परेशानी व मानसिक उत्पीड़ने का दावा किया. तब जाके मिला एक्रीडिटेशन. लवलीना ने इस के बारे में सब लोगों को ट्वीटर पर पोस्ट करके बताया‌।


भारत के लिए टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाली. भारत की महिला बॉक्सर लवली ना Borgohain कौन है. जुलाई में 28 तारीख से शुरू हो रहे थे. कॉमनवेल्थ गेम्स से पहले जो उनके साथ व्यवहार किया जा रहा है उस पर अपनी गहरी निराशा व्यक्त की है के साथ किस प्रकार की आप को पहचानने के बाद भारतीय खेल विभाग में एक तूफान आ गया लकी खेल प्रेम एवं निखिल डिपार्टमेंट चलाने वाले तमाम लोग जो उचित पोस्ट पर हैं उनकी कार्यशैली पर सवालिया निशान लग चुका है और अब जाकर जल्दबाजी में Lovlina Borgohain की परेशानी को दूर करने की कोशिश हो रही है.



इस स्टार बॉक्सर की निजी कोच को काफी मशक्कत के बाद मिला है. एक्रीडिटेशन क्योंकि कॉमनवेल्थ गेम्स में पार्टिसिपेट करने ने के लिए बर्मिंघम में मौजूद बोरगोहेन की निजी कोच संध्या गुरुंग को भी मंगलवार को इन खेलों के लिए एक्रीडिटेशन मिल गया। उनकी कोच को यह मान्यता लवलीना के उस ट्वीट के## बाद मिली है, जिसमें उन्होंने ‘ मानसिक उत्पीड़न’ के वजह से अपनी तैयरियों पर नकारात्मक असर होने का दावा किया है, यहां आपको बता दे कि संध्या आ इंडियन मुक्केबाजी टीम की वर्तमान में सहायक कोच भी हैं। उन्हें इस प्रतियोगिता से कुछ ही दिनों पूर्व  भारतीय दल में शामिल किया गया था। जब वे रविवार को यहां पहुंची तो उन्हें खेल गांव में प्रवेश की लिए परमिशन नहीं मिली.क्योंकि इनके पास एक्रीडिटेशन नहीं था.जिससे यह सारा मामला उत्पन्न हो गया। भारतीय ओलंपिक संघ के प्रमुख अधिकारी ने पीटीआई को इस बारे में बताया कि, ‘‘संध्या को यहां आज सुबह ही मुक्केबाजी खेल गांव में लाया गया एवं, एक्रीडिटेशन दिया गया। वह अब टीम मेम्बर के साथ हैं।’’ संध्या को खेल गांव में उन्हें कमरा भी दे दिया गया है।


लवलीना ने ट्विटर पर जताई थी निराशा।


इस मामले में समस्त कार्रवाई लवलीना के द्वारा सोमवार को किए गए लंबे पोस्ट के बाद हुई है, इस पोस्ट के माध्यम से उन्होंने बताया कि, उन्हें अपने कोच को अपनी टीम में शामिल करवाने के लिए जूझना पड़ रहा है ,जिससे कि उन्हें मानसिक उत्पीड़न का सामना करना पड़ा है, पोस्ट में लिखा गया कि आज मैं बहुत ही दुखी मन के साथ यह बात कह रही हूं कि, मुझे मानसिक तौर पर प्रताड़ना का सामना करना पड़ रहा है. ओलंपिक मैं मेडल जीतने में मेरी सहायता करने वाले कोच को हमेशा बाहर रखा गया है. जिस कारण मेरे ट्रेनिंग प्रोग्राम पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है.


लवलीना के अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी के मुकाबलों की सफलता में इनकी कोच संध्या का विशेष योगदान

2020 टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल को अपने नाम करने वाली. लवलीना ने यहां खेलों से पहले खराब मानसिक स्थिति से निकलने का क्रेडिट कोच संध्या को दिया था। राष्ट्रमंडल खेलों से पुर्व आयरलैंड में भी 15 दिनों के ट्रेनिंग प्रोग्राम के समय भी संध्या लवलीना के साथ ही थी। भारत के बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया ने अपने बयान में बताया कि नियमों के अनुसार स्ककवॉड में सहयोगी स्टाफ मेम्बर की संख्या खिलाड़ियों की संख्या के एक तिहाई होती है। इंडिया के मुक्केबाजी दल में 12 खिलाड़ीयों में आठ पुरुष और चार महिला शामिल हैं। जिसके अनुसार टीम के साथ चार सहयोगी सदस्य ही हो सकते हैं। बी.एफ.आई. ने बताया, ‘‘कोच एवम् सहयोगी स्टाफ के विषय में मुक्केबाजी की आवश्यकता थोड़ी अलग होती है क्योंकि इसमें एक के बाद एक यानी कि कई मुकाबले हो सकते हैं। बयान के अनुसार , ‘‘आई.ओ.ए. की सहायता से 12 मुक्केबाजों के दल के लिए अब  सहयोगी स्टाफ की संख्या चार से बढ़ाकर आठ कर दी गई है.

 


Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.