Pofnews.com coin 


One Rupees Coin 1976 information in Hindi


इस प्रकार के 1रुपये के सिक्कों को वर्ष 1975 से लेकर 1982 तक जारी किया गया था!और यह 1Rupee का सिक्का जो यहां दर्शाया गया है! इसे वर्ष 1976 में जारी किया गया था ! यह Standard circulation coin कौन है! जोकि copperएवम् nickel metal के मिश्रण से बनाया गया है! व इस सिक्के का वजन 8 ग्राम के लगभग होता है! इसका डायमीटर 28 एम.एम. होता है! इसकी की थिकनेस 2 M.M. की होती है! एवं यह आकार में गोलाकार Sikke के होते हैं! यानी इनका Shape Round होता है!और उनकी EDGE- Security EDGE होती है, 

यह भी पढ़ें:-5 रुपये के गांधीजी के चित्र वाले हरे रंग के नोट की देखिये ये विशेष बातें और खूबियां!

इन सिक्कों से पहले वर्ष 1962 से 1970 के समय में भी इस प्रकार के सिक्कों को बनाया गया था! वे Coins भी Common Circulation Coin थे,लेकिन उनमें विशेष अलग बात यह थी, कि उनका वजन 10 ग्राम होता था और वह मोटे होते थे!


उन सिक्कों के बाद में बनाए गए थे, 1971 से लेकर 1974 में इस प्रकार के सिक्के, लेकिन यह सभी सिक्के प्रूफ सेट में जारी हुए थे!जो कि आम लेनदेन में काम नहीं लिए जाते थे!

यह भी पढ़ें:-10 पैसे के सिक्के यह कीमत पर विशेष जानकारी जरूर पता करें!

1 रुपये के 1976 के सिक्के की बनावट के बारे में जानकारी One Rupees Coin 1976 design information in Hindi

Pofnews


इसके आगे की तरफ बीचों-बीच 1 का अंक बनाया गया है!उसके नीचे अंग्रेजी भाषा में RUPEE लिखा हुआ है, व इसके नीचे वर्ष 1976 को अंकित किया गया है! और इसके नीचे मिंट का मार्क दर्शाया जाता है! इस सिक्के के किनारों की तरफ गेहूं की बालियां बनाई हुई है! और coin की ऊपरी तरफ हिंदी भाषा में रुपया लिखा हुआ है! सिक्के के किनारों की तरफ बहुत अच्छा सुन्दर डिजाइन पेटर्न मनाया गया है! एवम इस सिक्के को पलटने पर इसकी बीचो-बीच अशोक स्तंभ की आकृति को दर्शाया गया है!इस आकृति के नीचे सत्यमेव जयते नहीं लिखा गया है! सिक्के के किनारे की तरफ भारत को हिंदी भाषा में लिखा गया है! और INDIA को अंग्रेजी भाषा में लिखा गया है! इस तरफ भी किनारों पर डिजाइनिंग पैटर्न बनाया गया है! 

यह भी पढ़ें:-एच मार्क वाली एक रुपए के Sikke की वैल्यू कीमत पता करें

1 रुपये के 1976 के सिक्के की कीमत के बारे में जानकारी One Rupees Coin 1976 price value information in Hindi


इन सिक्कों में जो सबसे रेयर सिक्के हैं,वह 1970 में बने हुए Sikke है ,इन सिक्कों की UNC CONDITION में कीमत एक अनुमान के मुताबिक 5000रुपये से लेकर 6000 रुपये तक मानी जाती है!और इसी प्रकार के रेयर सिक्कों में जो कोईन1962 में बने थे, उनकी UNC कंडीशन में कीमत 200 से 250रुपये तक भी हो सकती है!यह सिक्के अगर सामान्य कंडीशन के सिक्के हो तो उनकी कीमत भी 50से 80 तक हो सकती है! इसके पश्चात जो सिक्के 1971 से 1974 में जारी हुए थे! 1 रुपये के प्रुफ सेट वाले उनमें से एक Sikke की कीमत 4000-5000 रुपये हो सकती है!

यह भी पढ़ें:-इस 1 रुपये के नोट की कीमत जानकर आप हैरान रह जाएंगे!

यह भी पढ़ें:-5 रुपये गांधी जी के दांडी यात्रा वाले सिक्कों की खासियत और विशेषता क्यों है,यह सभी सिक्कों से अलग!

लेकीन 1976 के इस प्रकार के Sikke आम लेनदेन में कम देखने को तो मिलते हैं,लेकिन बहुत से लोग ऐसे हैं, और बहुत से Coin Collectors ऐसे हैं. जिनके Collection में आपको बहुत ये Sikke आसानी से मिल जाएंगे व इसलिए यह Coin Rare Category रेयर कैटेगरी में नहीं आते हैं,इसकी अगर कीमत की बात करें तो UNC CONDITION में ऐसे सिक्के 20 रुपय 40 तक बेचे जा सकते हैं!लेकिन कीमत हमेशा तय होती है, खरीददार  पर कि उसे इनकी कितनी आवश्यकता है, इसके अलावा जिन Coins में किसी प्रकार का Rare Defact हो,किसी प्रकार Error और किसी प्रकार से उनमें कोई ऐसी विशेषता हो जो उन्हें स्पेशल बनाती हो! 

यह भी पढ़ें:-20 पैसे के पीले वाले Sikke कमल के चित्र वाले जानीये इसकी खासियत!

तो ऐसी विशेषता Sikke को Rare के Category में लाती है, ऐसे coins बहुत अच्छी price में online भी sell जा सकते हैं! किसी भी Online Classified Website पर जाकर बेच सकते हैं.उनके लिए आप ad Post  कर सकते हैं.लेकिन जो इससे अच्छा तरीका है,वह है आप किसी Coin Exhibition में जाएं वहां जाकर अपने सिक्कों की कीमत पता करें,कि उनकी Real value क्या है.अगर आपको पसंद आती है. तो वहां आप उनको बेच सकते हैं !

यह भी पढ़ें:-5रुपये इलाहाबाद हाईकोर्ट वाले चित्र के सिक्के की 7 विशेषताएं!

यह भी पढ़ें:-क्या था कूका आंदोलन जिस पर यह 5 रुपये का सिक्का जारी किया गया जानिए इसके बारे में विशेष बातें


नोट :-उपरोक्त बताई गई जानकारी में सावधानी बरती गई है, और यहां प्रस्तुत लेख में जो तथ्य बताए गए हैं, वह इंटरनेट पर उपलब्ध सामग्री से प्रेरित होते हैं अतः इनमें किसी प्रकार की त्रुटी या गलती भी हो सकती है! पाठक अपने विवेक से काम ले, आप इस संबंध में सत्य और प्रमाणिक जानकारी को ही महत्व दें और उसे सही माने और उस पर ही विश्वास करें!

Post a Comment

welcome to our website

Previous Post Next Post